An ode to a city with no names

एक शहर वो भी होते हैं जहाँ प्रेमी फिर से मिलने का वादा करते हैं जो गवाह होते हैं आखिरी वक्त तक इंतजार करने की बातों के रीत जाने का और शहर फिर हँसता है धीरे से एक शहर वो भी होता है जहाँ सूरज छिपता है लड़की के बालों में लगे फूलों के पीछे […]

C: Churchgate To Virar

  The slow train with 12 coaches to Borivali is arriving at Platform number 1. Rajiv and Ishita looked for a bench among the hustling crowd. Tired after a long day’s work, the local train was their only respite. Ishita looked visibly excited today and Rajiv was clawed in the threads of being an intern […]