मेरी Ordinary सी ज़िन्दगी के सबसे Extraordinary हीरो- Happy Father’s Day

Father’s Day जैसा कुछ है आज. पापा के बारे में ऐसा क्या लिखूं जो कभी कहा नहीं गया हो. कोई कविता, कोई कहानी, कोई किस्सा, कोई कोट कुछ भी तो नया नहीं. पिता , जिनका होना भर ही कितना सुकून देता है. आहूत से पिता को देखा है, अपने दोस्त जैसे पापा को भी और […]

इंतज़ार……..#OctoberMovie

 इंतज़ार तुम्हारे कुछ कहने का कह कर भूल जाने का इंतज़ार सर्दियों में तुम्हारी उँगलियों के ठिठुरने का और काफी के भाप में तुम्हारा अलाव ढूँढने का इंतज़ार पहाड़ के अंतिम छोर पर टिके चाँद का और उसके साथ चलने वाले अकेलेपन का इंतज़ार लहरों के जाने के बाद लौट आने का यूँ जाते वक़्त […]

P.S. I Love You #WorldBookDay

Someday there will be a notebook A notebook with tattered pages A notebook with Eiffel on the cover A notebook picked up from an old bookseller Because picking notebook was a habit A habit he happily obliged Because she thought she will write She will write love songs Love songs not about tall promises Love […]