Act your age

वह: क्या हर बारिश में इतना खुश होना जरूरी है ? काले बादल आये नहीं कि नाचने लगना ? थोड़ा तो act your age. तुम क्या बच्ची हो जो चक्करघिन्नी की तरह नाचने लगो बारिश को देख कर।

वो : क्योंकि बारिश सब कुछ धो देती है, हर उस धूल को जो समय की गर्त से निकला है।क्यूँकि बारिश एक इंस्टेंट हैप्पीनेस देती है। जब आपको जिंदगी भी किश्तों में मिलती है तो आप शुक्रिया होते हैं हर बारिश के लिये, हर मुस्कुराहट के लिये, हर उस इंसान के लिए जो बारिश की तरह आते हैं और हँसने की एक वजह दे जाते हैं। हिसाब करके भी जिंदगी जिया तो क्या जिया। जेब में चाहे जितने पैसे हों पर किसी पुरानी जींस की जेब में अगर एक मुड़ा तुड़ा दस का नोट मिल जाये तो जो इंस्टेंट खुशी है ना, वो है बारिश। बारिश में भी नाचने के लिये , भीगने के लिये सोचना पड़े तो सिर्फ साँस ले रहे हैं हम।

और वह बाँहे फैला कर बारिश को समेटने लगी अपने घेरे में ,सर को टेढ़ा कर जोर से हँसते।
वो: आ जाओ और महसूस करो इस बारिश को you dead man walking.

वह: कम आन यार, act your age.

बादलों की तेज घड़घड़ाहट ने उसे यादों के किनारे से नीचे ढकेल दिया आज के धरातल पर।

उसने बूँदों को अपनी हथेली में लिया, चेहरे पर छींटे मारे, खिलखिलायी और मुस्कुराती रही देर तक उदास आँखों से। पर वह अब भी खुश है मेंढक की तरह, वह व्हील चेयर पर बैठे हुये समेटती है बारिश को अपनी हथेली पर और सर टेढ़ा कर हँसती है जोर से।

बस अब वो नाचती नहीं।
She has started acting her age.

8 Comment

  1. बड़े समय बाद हिंदी में कहानी पढ़ने का मज़ा ही कुछ और है। इस खूबसूरत कहानी के लिए धन्यवाद। ज़िन्दगी सच में हसीन है।

    1. Dr. Pooja Tripathi says: Reply

      Shukriya

  2. A beautiful story.. Truly making one realise to enjoy even the small moments of life.. You never know what your life is upto…

  3. bohot hi pyaara, bohot hi khubsurat lekh hai!!! very thoughtful writing!

    1. Dr. Pooja Tripathi says: Reply

      Thanks Prisha

  4. Wow!! Being a hindi lover I truly liked your post.

  5. Beautifully narrated. Small, Thoughtful and Bahut hi Sundar. We don’t need everything to enjoy Life. We Have Life to enjoy everything.

  6. ohh such an excellent way to portray your message but i didnt like what happened to her

Leave a Reply