दुनिया के सभी पापा के नाम

ट्रेन यात्रा के मेरे किस्सों में कल बहुत प्यारी सी कहानी जुड़ गयी. बीच सफ़र में, एक परिवार मेरी सामनी वाली सीट पर आ कर बैठा, पति, पत्नी और उनकी छोटी सी बेटी जिसका नाम पिहू था.पर सिर्फ ये तीन साथ में सफ़र कर रहे हो ऐसा नहीं था- पिहू के दो दोस्त भी थे- […]

My old home

one evening when sun painted the sky with goodbye of orange i passed through a familiar lane leading to a “no more my address” to an old home where my childhood stays it was there my old home, old and wrinkled for years which never trembled perched near a dhaak tree shade the colors that […]