मेरे बूढ़े मोहल्ले की बूढ़ी माताजी

मेरे मोहल्ला अब बूढ़ा हो चला है. ये तब की बात है जब भिलाई, मध्य प्रदेश का हिस्सा हुआ करता था. औद्योगिक नगर भिलाई बहुत पहले ही समय की दौड़ से कुछ अलग हटकर खड़ा हो गया है. ये आज भी वैसा ही है जैसे नेहरूवियन एरा में हुआ करता था, बिलकुल वैसा- उतना ही […]

The age of Magic

Close your eyes, and envision an idea of an app, an app that reads what are you thinking right now and gives you directions through an infinite space radiations and while you count backwards from 10. Energy pulses along the interstices of the space converges, a balloon comes up giving wings of internet to your […]

पोटली बाबा की

हम यात्रा पर निकले हैं ,गाँव की कच्ची पगडंडियां, खेत की मुंडेर के बराबर दौड़ती मिटटी की सडकें बड़ी होकर कब शहर की चौड़ी सड़क बन गयी यह देखने. हर शहर का एक चेहरा होता है जिस पर नए विचार,नए सामाजिक संगठनों और नयी ज़िन्दगी की परत चढ़ जाती है, आइये चलिए मेरे साथ ढूंढते […]