इस बारगी ये पत्त्थर तो तबियत से उछला है यारों

अमेरिकी राष्ट्रपति डोनाल्ड ट्रम्प के कार्यकाल के पहले दिन ही अमेरिका ने अपने इतिहास का सबसे बड़ा विरोध देखा, वाशिंगटन डीसी में 5 लाख से भी ज्यादा लोगों  ने  आज #Women’sMarch के तले एक विरोध मार्च में हिस्सा लिया और नये राष्ट्रपति को कड़े शब्दों में कहा कि समानता और अधिकारों की ये लड़ाई जारी रहेगी और अमेरिका जिन मूल्यों से बना है वे  किसी भी प्रशासन को उनसे खिलवाड़ नहीं करने देंगे .
आखिर ये शुरू कहाँ से हुआ – चुनाव के नतीजों के दिन हवाई की एक महिला टेरेसा शुक ट्रम्प के निर्वाचित होने से इतनी निराश थी कि रात १२ बजे उन्होंने फेसबुक पर एक इवेंट पेज बनाया जिसमें उन्होंने डोनाल्ड ट्रम्प की हेट politics के खिलाफ मार्च करने की बात कही, सुबह 5 बजे तक उनके पास 10000 लोगों ने us मार्च में शामिल होने पर सहमती जताई.और दो दिन बाद मेन्हेटन के एक रेस्तरां में #Women’sMarch की तैयारी हो रही थी. तय हुआ कि राष्ट्रपति के शपथ लेने के दुसरे ही दिन यह मार्च होगा यह बताने के लिये कि “आप हमें जितना नीचे गिराएंगे हम उतनी ही बार ऊपर उठेंगे”,#Women’sMarch का कोई नेता नहीं है, पर इसके इतने बड़े स्वरुप के लिये फेसबुक जरुर श्री ले सकता है. यह वाशिंगटन डीसी से होते हुए विश्व के दूसरे हिस्सों में भी उतनी ही बड़ी संख्या में देखा गया और हॉलीवुड के कई सेलेब्रिटी ने न सिर्फ इस मार्च में हिस्सा लिया बल्कि इसे एक एक्टिव राजनीतिक मूवमेंट बनाने की बात भी रखी.

यह कितना बड़ा राजनीतिक वक्तव्य बनेगा यह तो आने वाला वक़्त ही बताएगा पर “pink pussyhats ” पहनी करोड़ों  की संख्या में उठी आवाजें चीख में बदल रही हैं, नवनिर्वाचित राष्ट्रपति जितना जल्दी सुन लें उतना अच्छा, आइये ले चलते हैं आपको #Women’sMarch में इन शानदार तस्वीरों से

स्त्रोत – Getty Images, Huffington Post, Buissness Insider, Time

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *